• अमेरिकी कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल ने की दलाई लामा से मुलाकात, तिब्बतीय मुद्दों पर हुई बात

    अमर उजाला, 10 मई, 2017
    अमेरिका के कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल के सदस्यों ने मंगलवार को धर्मशाला में दलाई लामा से मुलाकात की। प्रतिनिधिमंडल में जिम सेनसेनब्रेनर, इलियॉट एंजेल, जिम मैकगॉवर्न, बेट्टी मैक्कुलम, जूडी चू, जॉइस बिटी तथा प्रमिला जयपाल शामिल हैं। हाउस डेमोक्रेटिक लीडर नैन्सी पेलोसी के नेतृत्व में प्रतिनिधिमंडल के सदस्यों ने भारत के लिए उड़ान भरी। ये मुलाकात चीन को चिंतित कर सकता है जो दलाई लामा को अलगाववादी मानता है।
    पेलोसी ने कहा कि हम दलाई लामा की पवित्रता और तिब्बती लोगों के विश्वास, संस्कृति और भाषा के प्रति उनकी प्रतिबद्धता के कारण उनसे मिलने आए हैं। बता दें कि चुनाव प्रचार के दौरान डोनाल्ड ट्रंप ने चीन को व्यापार विरोधी और करेंसी मैनुपुलेटर के तौर पर दिखाया था जबकि अब अमेरिकी राष्ट्रपति चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग से उत्तर कोरिया को नियंत्रित करने के लिए समर्थन चाहते हैं।

    गौरतलब है कि नैन्सी पेलोसी हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव की पूर्व स्पीकर हैं। वे लंबे समय से तिब्बतियों की समर्थक हैं। इससे पहले वो 2008 में धर्मशाला आई थीं।

    दलाई लामा ने प्रतिनिधिमंडल के स्वागत के दौरान कहा ये मेरा घर है। हालांकि बाद में उन्होंने सुधार करते हुए कहा कि ये मेरा दूसरा घर है। दलाई लामा ने कहा, “पिछले 58 सालों से मैं भारत सरकार का मेहमान हूं”। बता दें 1959 में चीन से भागने के बाद से ही दलाई भारत में रह रहे हैं।

    प्रतिनिधिमंडल में शामिल जिम मैकगवर्न ने कहा कि चीनी लोग अमेरिका में कहीं भी आ-जा सकते हैं जबकि अमेरिकी कूटनीतिट, पत्रकार और टूरिस्ट तिब्बत नहीं जा सकते। चीन का ये रवैया अब और बर्दाश्त नहीं किया जा सकता।

    Link of news article: http://www.amarujala.com/india-news/us-congressional-delegation-visit-dalai-lama-highlight-situation-in-tibet

    Categories: मुख्य समाचार, समाचार

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *