• शिक्षा विभाग

    तिब्बत सरकार का शिक्षा विभाग भारत, नेपाल और भूटान में ८० स्कूल संचालित करता है जिसमें करीब ३० हजार विद्यार्थी पढ़ते हैं। इन विद्यालयों में पढ़ने वाले ७० प्रतिशत विद्यार्थी निर्वासित तिब्बती समुदाय से होते हैं।

    ७० प्रतिशत विद्यार्थी निर्वासित तिब्बती समुदाय से होते हैं। इसके अलावा १५ या २० प्रतिशत निर्वासित तिब्बती विद्यार्थी निजी विद्यालयों में भी पढ़ते हैं।
    शिक्षा विभाग के अंतर्गत आने वाले इन ८० विद्यालयों में से ३० विद्यालय सीधे भारत सरकार के केंद्रीय तिब्बती स्कूल प्रशासन ;सी टी एस ए द्वारा संचालित किए जाते हैं और उन्हें फंड भी यहीं से मिलता है।
    धर्मशाला स्थित टिबेटन चिल्डे्रन्स विलेज और मसूरी स्थित टिबेटन होम्स फाउंडेशन शिक्षा विभाग के अंतर्गत आने वाले स्वायत्त निकाय हैं।
    टिबेटन चिल्डे्रन्स विलेज पर १५ स्कूलों के प्रशासन की जिम्मेदारी दी गई है जिनमें १७ हजार से अधिक विद्यार्थी पढ़ते हैं।
    टिबेटन होम्स फाउंडेशन दो स्कूल संचालित करता है जिनमें करीब १५०० विद्यार्थी पढ़ते हैं।
    शिक्षा विभाग द्वारा एक बड़ी चाइल्ड स्पांसरशिप योजना भी चलायी जाती है जिसके लिए कई संस्थाओं और व्यक्तियों से मदद मिलती है। इस योजना के तहत विभाग द्वारा योग्य स्नातक बच्चों को उच्च शिक्षा के लिए छात्रावृत्ति प्रदान की जाती है।
    विभाग की शिक्षा नीति का लक्ष्य यह है कि बच्चों को इस तरह की जिम्मेदारी की भावना से ओतप्रोत कर दें जिससे वह दूसरों की मदद कर सकें। इसके लिए शिक्षा विभाग ने एक ऐसी नीति तैयार की है जिसमें आधुनिक व प्राचीन शिक्षा का न्यायोचित मिश्रण किया गया है। इसमें एक तरफ आनिक कौशल शामिल किया गया है तो दूसरी तरफ परंपरागत मूल्य प्रणाली अपनाने के बारे में गर्मजोशी से प्रेरणा दी गई है।
    शिक्षा विभाग के बारे में विस्तृत जानकारी के लिए कृपया इसकी आधिकारिक वेबसाइट www.sherig.org को

    देखें।
    पत्राचार का पताः
    सचिव,
    शिक्षा विभाग,
    केंद्रीय तिब्बती प्रशासन,
    धर्मशाला,
    भारत-१७६२१५
    टेली. ९१-१८९२-२२२५७२, २२२७२१
    फैक्सः ९१-१८९२-२२३४८१
    ई-मेलः education@gov.tibet.net