• सूचना एवं अंतर्राष्ट्रीय संबंध विभाग

    सूचना व अंतरराष्ट्रीय संबंध विभाग केंद्रीय तिब्बती प्रशासन के अंतरराष्ट्रीय मामलों की जिम्मेदारी सूचना व अंतरराष्ट्रीय संबंध विभाग को दी गई है। यह विभाग एक तरह से छीसी खांग ;विदेश संबंध विभाग का ही नया रूप है जिसे तिब्बत पर चीनी कब्जे के बाद १९५९ में निर्वासन में दुबारा स्थापित किया गया।
    मार्च १९६९ में छीसी खांग के अंतरराष्ट्रीय संबंध खंड को परमपावन दलाई लामा के नई दिल्ली ब्यूरो के तहत जोड़ दिया गया और धर्मशाला स्थित कार्यालय के अन्य खंडों को बंद कर दिया गया। हालांकि शीघ्र तिब्बती प्रशासन के सामने यह समस्या खड़ी हो गई कि वह तिब्बत के बारे में जानकारी पाने की अंतरराष्ट्रीय समुदाय की बढ़ती मांग को किस तरह से पूरा करे। तिब्बती प्रशासन को यह भी लगा कि तिब्बतियों में राजनीति, मानवाधिकारों और पर्यावरण के बारे में जागरूकता पैदा करना जरूरी है।
    इस प्रकार १९७१ में धर्मशाला में सूचना व प्रचार विभाग की स्थापना की गई। ४ अप्रैल १९८८ को इस कार्यालय का और विस्तार करते हुए दिल्ली स्थित अंतरराष्ट्रीय संबंध विभाग को भी इसका एक हिस्सा बना दिया गया। इस समय इस कार्यालय का नाम बदलकर सूचना व अंतरराष्ट्रीय संबंध विभाग; डी आई आई आर कर दिया गया।