• चीन ने दलाई लामा के गांव का पुनर्निर्माण किया

    बीजिंग , एजेंसी । चीन ने आध्यात्मिक गुरु दलाई लामा के गांव का पुनर्निर्माण करते हुए यहां के निवासियों के लिए आधुनिक घर बनाए है। सरकारी ने शिंहाई -तिब्बत क्षेत्र में दलाई लामा की जन्मस्थली होंगाई गांव के सभी 54 घरों का पुनर्निर्माण अपने खर्च पर किया है। इसमें दलाई लामा के भतीजे गोंगपो टाशी का घर भी शामिल है, जिनका मुख्य काम दलाई लामा के इस गांव की देखभाल करना है। 63 वर्षिय गोंगपो भारत में निर्वासित जीवन बिता रहे दलाई लामा से मिलने के लिए साल में दो बार भारत आते है। उन्होंने कहा, मैं कुछ दिनों से दलाई लामा के संपर्क में नही हूं। बात होने पर र्निर्माण की जानकारी दूंगा । गोंगपो की गिनती गांव के अमीरों में होती है। दलाई लामा इस बदलाव को देख पाएंगे या नहीं इस सवाल के जवाब में उन्होंने कहा, मैं उनकी वापसी का इंतजार कर रहा हूं। अगर वह वापस आ जाते है, तो सारी समस्याएं हल हो जाएंगी । तिब्बती धर्मगुरु 14 वें दलाई लामा तेनजिन गयात्सो का जन्म छह जुलाई 1935 को एक साधारण किसान परिवार में हुआ था। वह हिमाचल प्रदेश के धर्मशाला में 1959 से निर्वासित जीवन बिता रहे है। चीन की आंखों की किरकिरी बने दलाई लामा तिब्बत की स्वायत्ता की मांग करते रहे है।

    Categories: मुख्य समाचार, समाचार, स्थायी स्तम्भ

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *