• दलाईलामा का सुरक्षा चक्र पैना

    धर्मशाला — चौतरफा खतरे की आशंका के चलते बौद्ध धर्मगुरु दलाईलामा का सुरक्षा चक्र और मजबूत हो गया है। महामहिम दलाईलामा की सुरक्षा में अब 24 घंटे डीएसपी की अगवाई में 150 सुरक्षा कर्मियों की टुकड़ी तैनात रहेगी। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने दलाईलामा टैंपल में रासायनिक हमलों को निरस्त करने के लिए केमिकल डिटेक्टर तथा हेलिपैड स्थापित करने का निर्णय लिया है। दलाईलामा से मिलने वाले हर आगंतुक की वेरिफिकेशन के बाद उसका रिकार्ड कम्प्यूटर में दर्ज होगा। दलाईलामा टैंपल में समय-समय पर सुरक्षा के पूर्वाभ्यास तथा पेट्रोलिंग चलती रहेगी। उक्त तमाम फैसले दलाईलामा के सुरक्षा तंत्र को मजबूत करने के लिए लिए गए हैं। खासकर शुकदेन तथा चीनी जासूसों की घुसपैठ की आशंका के बाद महामहिम दलाईलामा की सुरक्षा को लेकर सभी खुफिया सुरक्षा एजेंसियां चौकन्नी हो गई हैं। एसपी कांगड़ा दिलजीत ठाकुर ने बताया कि दलाईलामा टैंपल में केमिकल डिटेक्टर स्थापित करने का प्रस्ताव केंद्रीय गृह मंत्रालय में  विचाराधीन है। मंत्रालय से मंजूरी मिलते ही इसे स्थापित कर दिया जाएगा। डिटेक्टर के लगने से दलाईलामा मंदिर के आसपास किसी भी तरह का रासायनिक हमला या हथियारों का प्रवेश नहीं हो पाएगा। महामहिम के स्वास्थ्य व सुरक्षा के मद्देनजर मकलोडगंज में हेलिपैड स्थापना का मामला भी केंद्रीय गृ़ह मंत्रालय ने प्रमुखता से उठाया है। एसपी कांगड़ा ने बताया कि दलाईलामा की सुरक्षा पर अब हर समय डेढ़ सौ सुरक्षाकर्मी तैनात रहेंगे। सुरक्षा दस्ते से अगर किसी व्यक्ति का तबादला होता है या कोई अवकाश पर रहता है, तो इस स्थिति में वहां तुरंत दूसरे सुरक्षाकर्मी की तैनाती की जाएगी। दलाईलामा के इर्द-गिर्द किसी भी संदिग्ध की घुसपैठ को रोकने के लिए आगंतुकों पर कड़ी निगरानी रखी जाएगी। उल्लेखनीय है कि हाल ही में चीनी जासूसों की घुसपैठ को लेकर सुरक्षा एजेंसियां सतर्क हुई हैं। इसके तुरंत बाद दलाईलामा की सुरक्षा को लेकर पुलिस को अलर्ट कर दिया गया है। तिब्बती धर्मगुरु दलाईलामा के इर्द-गिर्द परिंदा भी पर नहीं मार सकेगा। महामहिम की सुरक्षा में एक डीएसपी, एक इंस्पेक्टर, पांच सब-इंस्पेक्टर, आठ एएसआई, 29 हैडकांस्टेबल और 110 कांस्टेबल तैनात रहेंगे

    Categories: मुख्य समाचार

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *